नेट थिएट पर भजन हरि सुमरो रे मन मेरा

Bhajan -Hari- Sumro- Re -Man -Mera- on- Net -Theater-jaipur-rajasthan-india

जयपुर , 27 नवंबर । नेट थिएट कार्यक्रमों की श्रृंखला में रेनवाल फागी के प्रसिद्ध भजन गायक बाबूलाल भाट ने अपने मधुर कंठ से भजन प्रस्तुत कर श्रोताओं को आनंद रस में हिलोरे दिलाए ।

नेट थिएट के राजेंद्र शर्मा राजू ने बताया कि गायक बाबूलाल भाट अपने कार्यक्रम की शुरुआत गुरु वंदना सद्गुरु के चरणों में मन लागा जीवन का यही है सार सुनाया तो दर्शक वाह वाह कर उठे।

उन्होंने राम और तुलसीदास रचित भजन हरि सुमरो रे मन मेरा, जासे जन्म सफल हो तेरा,मेरी भी सुनो नाथ जैसे सबको कष्ट निवारो,हे गोविंद गोपाला है नटवर नंदलाला और अंत में मेरे घर आने में देर क्यों करी नारायण हरि नारायण हरि की प्रस्तुति देकर दर्शकों को मंत्र मुग्ध किया ।

तबले पर प्रियांश भार्गव ने संगतकर इस संध्या को भक्तिमय बना दिया ।कार्यक्रम संयोजक नवल डांगी कैमरा और लाइट्स मनोज स्वामी, मंच व्यवस्था अंकित शर्मा नोनू और जीवितेश शर्मा की रही ।