चित्रांश आर्ट्स एंड कल्चर ग्रुप :ओ हसीना जुल्फों वाली……

जयपुर, 30 जनवरी।चित्रांश आर्ट्स एंड कल्चर ग्रुप के  बैनर तले आयोजित मेरी आवाज़ ही पहचान है -4 मेें चित्रांश कलाकारो ने अपनी सुरीली आवाज में श्रोता  फिल्मी गानों में गोते लगाते रहे।

Chitransh Arts and Culture Group: Ho Haseena Zulfon Wali......

 

राकेश श्रीवास्तव के निर्देशन में रंगायन, जवाहर कला केन्द्र, जे. एल. एन. मार्ग, जयपुर में सजाई गई एक शाम  के मुख्य अतिथि नफीस डागर अनीस डागर ध्रुपद गायन पारंगत गायक और विशिष्ट अतिथिगण दीप प्रकाश माथुर सेवानिवृत प्रशासनिक अधिकारी, समाज सेवक, डा. शालिनी माथुर समाजसेविका गायिका, उद्घोषिका, आदित्य राय माथुर युवा उद्यमी, विनय दलेला निदेशक नगर नियोजन जे डी ए, मीना श्रीवास्तव समाजसेविका फाउंडर दिविशा फाउंडेशन, शिप्रा कुलश्रेष्ठ समाजसेविका, अमित कुलश्रेष्ठ चेयरमैन एल. बी. एस. स्कूल, आशीष कुलश्रेष्ठ निदेशक एल. बी. एस. स्कूल , रतन सक्सेना निदेशक कृति बिल्डर्स, डा. शेखर सक्सेना संगीतज्ञ, समाजसेवी, डा.अशोक माथुर सेवानिवृत प्रमुख विशेषज्ञ फोरेंसिक मेडिसिन रहे l

Chitransh Arts and Culture Group: Ho Haseena Zulfon Wali......

कार्यक्रम में कायस्थ समाज के  40 से अधिक  कलाकारों  में डा. राहुल श्रीवास्तव व नीना सक्सेना ने तेरे बिना जिंदगी भी कोई, बी के माथुर रुचिका माथुर ने अच्छा जी मैं हारी, पी एन माथुर यशा श्रीवास्तव ने ये परदा हटा दो, अजय सक्सेना वंदना माथुर ने गुम है किसी के प्यार में, शरद माथुर कविता माथुर ने जब कोई बात बिगाड़ जाये, राजीव सक्सेना रितु माथुर ने महबुब मेरे महबुब मेरे की जानदार  प्रस्तुति दी।

स्पर्श श्रीवास्तव डॉ. सुनीता श्रीवास्तव ने ओ हसीना जुल्फों वाली, आलोक माथुर निशांत माथुर ने यम्मा यम्मा, एस पी माथुर प्रेरणा माथुर ने इब्तिदा -ऐ- इश्क में, अभिनीत सक्सेना गरिमा माथुर ने अरे रे अरे ये क्या हुआ, डॉ.सी पी श्रीवास्तव वर्षा श्रीवास्तव ने कौन दिशा में लेके चला रे, राजीव श्रीवास्तव मल्लिका स्वरूप ने अभी ना जाओ छोड़कर, डॉ.राहुल श्रीवास्तव वीटा माथुर ने चांद ने कुछ कहा, मनोज सक्सेना मनीष माथुर ने बने चाहे दुश्मन जमाना, दामिनी सक्सेना नम्रता सक्सेना ने दम मारो दम, नीरज नंदक्योलयार नीतू सिन्हा ने तुम्हारी नजर क्यूँ खफा हो गई, अमित श्रीवास्तव प्रेरणा माथुर ने जिए तो जिए कैसे  दर्शकों की ताालियाँ बजाने को मजबूर कर दिया। कलाकारों ने लता मेडले, किशोर मेडले और मुकेश मेडले की भी मनमोहक प्रस्तुति दी ।

कार्यक्रम का  संचालन जितेन्द्र नाग और संगीता माथुर ने किया।