राजनीति में सब कुछ संभव : स्तीफा फिर सीएम बने नीतीशकुमार

Everything- is- possible -in- politics- Stifa- Nitish-kumar- becomes- CM -again-patna-bihar-india

पटना, 28 जनवरी ।बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रविवार सुबह पद से इस्तीफा दे दिया। इसके बाद शाम को ही उन्होंने भाजपा के समर्थन से मुख्यमंत्री पद की शपथ भी ले ली।

रविवार सुबह नीतीश कुमार ने राज्यपाल राजेंद्र अर्लेकर को इस्तीफा सौंप दिया। उन्होंने राज्यपाल को बताया कि वे महागठबंधन से अलग होने का फैसला कर चुके हैं। इसके बाद शाम होते.होते उन्होंने नौंवी बार भाजपा के समर्थन से सीएम पद की शपथ भी ले ली।

नीतीश ने आठवीं बार मुख्यमंत्री पद छोड़ा, नौवीं बार दोबारा CM

# नीतीश कुमार पहली बार 3 मार्च 2000 को सीएम बने थे। हालांकिए बहुमत न जुटा पाने की वजह से उन्हें 10 मार्च 2000 को पद से इस्तीफा देना पड़ा था।
# बिहार में 2005 में हुए चुनाव में नीतीश भाजपा के समर्थन से दूसरी बार मुख्यमंत्री पद पर काबिज हुए।
# 2010 में हुए विधानसभा चुनाव के बाद एक बार फिर नीतीश सीएम बने।
# लोकसभा चुनाव में भाजपा के खिलाफ पार्टी के खराब प्रदर्शन की वजह से उन्होंने सीएम पद से इस्तीफा दे दिया। इस दौरान उन्होंने जीतनराम मांझी को मुख्यमंत्री पद सौंपा। हालांकिए 2015 में जब पार्टी में अंदरुनी कलह शुरू हुई तो नीतीश ने मांझी को हटाकर एक बार फिर खुद सीएम पद ग्रहण किया।
# 2015 के विधानसभा चुनाव में महागठबंधन ;जदयूए राजदए कांग्रेस और लेफ्ट गठबंधनद्ध की एनडीए के खिलाफ जीत के बाद नीतीश कुमार एक बार फिर बिहार के मुख्यमंत्री बने। यह कुल पांचवीं बार रहाए जब नीतीश ने सीएम पद की शपथ ली।
#डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव के खिलाफ लगे भ्रष्टाचार के आरोपों के बाद नीतीश कुमार ने महागठबंधन से अलग होने का फैसला किया। उन्होंने जुलाई 2017 में ही पद से इस्तीफा दिया और एक बार फिर एनडीए का दामन थाम कर सीएम पद संभाला।
#2020 के विधानसभा चुनाव में एनडीए गठबंधन ने जीत हासिल की। हालांकिए जदयू की सीटें भाजपा के मुकाबले काफी घट गईं। इसके बावजूद नीतीश कुमार ने सीएम पद की शपथ ली।
#2022 में एनडीए से अलग होने के एलान के ठीक बाद नीतीश कुमार ने राजद के नेतृत्व वाले महागठबंधन से जुड़ने का एलान कर दिया। इसी के साथ नीतीश कुमार ने आठवीं बार मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। 28 जनवरी 2024 को उन्होंने आठवीं बार मुख्यमंत्री पद छोड़ दिया।