जानी-मानी अभिनेत्री कामिनी कौशल को आउटस्टैंडिंग लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड। 

जयपुर: 31 जनवरी। जयपुर अंतर्राष्ट्रीय फिल्म फेस्टिवल (जिफ) में इस बार हिन्दी सिनेमा की ख्यातिनाम और वरिष्ठतम अभिनेत्री कामिनी कौशल को आउटस्टैंडिंग लाइफटाइम अचीवमेंट पुरस्कार दिया जाएगा।

उनके साथ ही राजस्थानी सिनेमा के विश्वकोश के रचियता सिने इतिहासकार मुरलीधर सोनी [M D Soni] को भी लाइफटाइम अचीवमेंट पुरस्कार दिया जाएगा।

यह घोषणा जिफ के संस्थापक निदेशक हनु रोज ने बुधवार को जयपुर में की। अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त इस फिल्म समारोह का 16 वां संस्करण 9 से 13 फरवरी तक आयनॉक्स जी टी सेन्ट्रल, जयपुर में होगा।

प्रतिष्ठित अभिनेत्री कामिनी कौशल ने 1946 की चेतन आनंद की फिल्म ‘नीचा नगर’ से फिल्मों में प्रवेश किया और नायिका तथा चरित्र अभिनेत्री की यादगार भूमिकाएं करते हुए एक लंबी और सफल पारी खेली। उन्होंने टीवी धारावाहिक और कठपुतली कला में भी अपने काम की छाप छोड़ी।

कामिनी कौशल के उल्लेखनीय करियर, कला के प्रति उनके समर्पण और सिनेमा की दुनिया पर उनके गहरे प्रभाव के लिए यह पुरस्कार दिया जा रहा है। 97 वर्ष की इस अभिनेत्री को उनके मुम्बई स्थित घर पर जाकर यह सम्मान दिया जाएगा। 2011 में कामिनी कौशल जिफ में भाग लेने जयपुर आईं थी.

इससे पहले ये अवार्ड आशा पारेख, शर्मिला टैगोर, जया बच्चन, प्रकाश झा, रमेश प्रसाद, रोबिन भटट, अपर्णा सेन, शाजी एन करुण, दिलीप कुमार, माजिद मजीदी आदि को दिया गया है।

 

सिने इतिहासकार और अनुभवी पत्रकार लेखक मुरलीधर सोनी ने बरसों की मेहनत तथा अनुसंधान से राजस्थानी सिनेमा का पहला विश्वकोश तैयार किया है।

राजस्थानी सिनेमा की 80 वर्ष की यात्रा का प्रामाणिक दस्तावेज बनाने और उसकी विरासत को संरक्षित करने के के उनकी लगन तथा अनथक व समर्पित प्रयासों व सिने जगत में उनके उत्कृष्ट साहित्यिक योगदान को रेखांकित करते हुए जिफ उन्हें लाइफटाइम अचीवमेंट से सम्मानित कर रही है।